Hit enter after type your search item

भारत में स्टेज-2 में पहुंचा कोरोना, भयावह होगा तीसरा स्टेज, चौथे स्टेज के बारे में जानकर उड़ जाएंगे होश!

/
/
/
87 Views

कोरोना वायरस दुनिया भर में महामारी का रूप लेता जा रहा है। चीन के वुहान शहर से शुरू हुआ यह वायरस अब तक 100 से ज्यादा देशों में फैल चुका है और 5000 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। भारत में भी हर घंटे नए मामले सामने आ रहे हैं। भारत में कोरोना वायरस से अब तक दो लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं इससे संक्रमित लोगों की संख्या 80 के पार पहुंच गया है। स्वास्थ्य विशेषज्ञों के अनुसार देश में यह महामारी अभी दूसरे स्टेज में है और इसे रोकने के लिए सरकार ने ठोस कारगर कदम नहीं उठाए तो स्थिति बिगड़ सकती है। भारतीय स्वास्थ्य शोध परिषद (आईसीएमआर) के मुताबिक अभी इसे अगले स्टेज से रोकने के लिए सरकार के पास एक महीना है।

आईसीएमआर के निदेशक जनरल बलराम भार्गव ने कहा है भारत में इसे अगले स्टेज में जाने से रोका जा सकता है। उनके मुताबिक स्टेज-3 में जाने से रोकने के लिए अभी एक हमीने का समय है। अगर पर्याप्त उपाय किए जाएं तो इसे अगले स्टेज में जाने से रोका जा सकता है।

क्या है कोरोना वायरस का स्टेज-3

जनरल भार्गव के अनुसार स्टेज-3 में वायरस बड़े पैमाने पर लोगों में फैलने लगता है, जबकि स्टेज-4 में महामारी की स्थिति हो जाती है। चीन और इटली में कोरोना वायरस संक्रमण इससे भी अगले स्टेज में पहुंच चुका है। फिलहाल यह नहीं कहा जा सकता कि कोरोना वायरस खत्म कब होगा।

भारत में अभी तक जितने मामले आए हैं उसमें ज्यादातर लोगों ने दूसरे देशों का दौरा किया था। वो लोग वहां संक्रमित लोगों के संपर्क में आए, जिससे में ये बिमारी फैली। आईसीएमआर के महामारी विशेषज्ञ प्रमुख डॉ. आरआर गंगाखेडकर के मुताबिक देश में संक्रमण ज्यादातर ऐसे लोगों से फैला, जो अन्य देशों की यात्राएं कर के लौटे हों। ऐसे लोगों ने कोरोना वायरस से प्रभावित देशों की यात्राएं की और कोरोना संक्रमित मरीजों के संपर्क में आने से बीमार हुए। उन्होंने कहा कि जिन लोगों में सीजनल फ्लू और सर्दी-बुखार के लक्षण हैं, उन्हें टेस्ट कराने की जरूरत नहीं हैं, क्योंकि वायरस का प्रभाव फिलहाल देश में भी सीमित जगहों पर ही है। जिन लोगों में कोरोनावायरस के लक्षण दिख रहे हैं, उनकी जांच की जा रही है।

लेकिन सवाल यह है कि अगर भारत में कोरोना वायरस बड़े स्तर पर और तेजी से फैलना शुरू कर देता है तो क्या इसे रोकने में हमारा देश सक्षम है? इस सवाल पर आईसीएमआर डीजी भार्गव बताते हैं कि यदि वायरस तेजी से फैलता है और महामारी का रूप लेता है तो देश में टेस्टिंग के लिए पर्याप्त किट हैं। फिलहाल देश के अलग अलग राज्यों में 51 लैब कोरोना वायरस की टेस्टिंग कर रही हैं। इन लैबों की क्षमता एक दिन में 4590 टेस्ट करने की है |

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This div height required for enabling the sticky sidebar
Ad Clicks : Ad Views : Ad Clicks : Ad Views : Ad Clicks : Ad Views :